नालंदा के महाबोधि महाविद्यालय में छह दिवसीय राष्ट्रीय युवा एकता शिविर शुरू

दीपक विश्वकर्मा , राष्ट्रीय युवा योजना बिहार के तत्वाधान में 19 से 24 सितंबर तक राष्ट्रीय युवा एकता शिविर का आयोजन महाबोधि महाविद्यालय नालन्दा में किया गया। कार्यक्रम में बिहार, उत्तर प्रदेश, अरुणाचल प्रदेश, आंध्र प्रदेश, असम, छत्तीसगढ़, नागालैंड, हरियाणा, दिल्ली, महाराष्ट्र, पंजाब, राजस्थान, कर्नाटक, केरल, तमिलनाडु, तेलंगाना, मध्य प्रदेश, झारखंड,केरल, उत्तराखंड समेत 25 राज्य के 300 प्रतिभागी भाग ले रहे हैं। कार्यक्रम का उद्घाटन पद्मश्री सम्मान से सम्मानित इंडोनेशिया निवासी इंद्राउदयन, पूर्व विधायक रवि ज्योति, समाजसेवी दिलीप कुमार, प्राचार्य अरविंद कुमार, कैम्प निदेशक हरि पादो विश्वास ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर किया।

इस मौके पर इंद्रा उदयन ने कहा कि जो कार्य बड़े-बड़े अधिकारी सरकारी मशीनरी अपने तमाम तरह के साधनों का उपयोग कर नहीं कर पाए उसे राष्ट्रीय युवा योजना के संस्थापक डॉक्टर एस0एन0 सुब्बाराव जी ने चंबल के 654 खूंखार डाकू का हृदय परिवर्तन कर चम्बल घाटी में शांति स्थापित कैंप के माध्यम से करा कर एक क्रांति का आगाज किया था। रवि ज्योति ने देश के विभिन्न राज्यों से आए हुए सभी प्रतिभागियों का स्वागत करते हुए कहा कि नालन्दा की भूमि ज्ञान की भूमि है। यहां से सभी लोग जो भी सीखें अपने आस पड़ोस के लोगों को भी सिखाएँ। उन्होंने कहा कि छोटी-छोटी समस्याओं को श्रमदान व विचारों का आदान प्रदान कर हल कर सकते हैं। दिलीप कुमार ने कैंप के दिनों को याद करते हुए सभी प्रतिभागी से भारत की विविधता की ओर इशारा करते हुए कहा कि विभिन्न भाषा हमारी कमजोरी नही बल्कि एक हमारी मजबूती है।

यही हमारी सबसे बड़ी अनेकता में एकता है। हरि विश्वास ने सभी प्रतिभागियों से अगले 6 दिनों तक कैम्प में सीखी बातों को अपने जीवन में उतार कर अपने जीवन को एक उद्देश्य देने हेतु प्रेरित किया। नीरज कुमार ने सभी प्रतिभागियों से एक घंटा देह को और एक घंटा देश को देने की बात कहते हुए कहा कि पूरे दिन में कम से कम एक घंटा वैसा कार्य करें जिससे दूसरे लोग लाभान्वित हो और हमारा देश अग्रणी देशों में शुमार हो सके।कैम्प कॉर्डिनेटर रोहित कुमार ने कैम्प के उद्देश्यों के बारे में बताते हुए कहा कि सभी प्रतिभागी भाषाई एकता हेतु प्रतिदिन एक घंटा दूसरी भाषा सीखे, टैलेंट एक्सचेंज कार्यक्रम में अपनी प्रतिभा से दूसरे लोगों को लाभान्वित करें, आधे घंटे ध्वजारोहण के तरीकों के बारे में जाने, समसामयिक महत्वपूर्ण मुद्दों पर पर चर्चा करें, यदि कैंप में आयोजित गतिविधियों को अपने जीवन में उतारते हैं तो निश्चित रूप से उनका जीवन बदल जाएगा। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय युवा योजना वह प्लेटफार्म है जहां से सभी मार्ग की गाड़ियां गुजरती है, बस प्लेटफार्म परिवर्तन की आवश्यकता है। हर्षबर्धन कुमार ने बिहार के ऐतिहासिक महत्व को बताते हुए बिहार के बारे कहा कि जो भ्रांतियां फैली हुई है उसे लोगों के बीच से दूर करने में युवा महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे। पर्यावरण साथी डॉ धर्मेन्द्र कुमार ने लोगों से अपनी खुशी के मौके पर एक पेड़ अवश्य लगाने का अनुरोध किया ताकि गर्म होती धरती को अगली पीढ़ी के लिए बचाया जा सके। लोक गायक भैया अजित ने सभी प्रतिभागियों से हिंदू मुस्लिम सिख ईसाई साथ मिलकर देश को आगे ले जाने की नसीहत दी । सचिव सुनील सेवक ने आए हुए सभी प्रभागियो को स्व अनुशासन को अपने जीवन में उतारने की बात कही।कार्यक्रम को अभिनंदन पांडेय, विजय कुमार धावक, विकास कैब, शिवनन्दन प्रसाद, गोपाल शरण, गौरीशंकर, अशोक कुमार ने भी संबोधित किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Next Post

उप महापौर पद के लिए रजनीश कुमार सिंह उर्फ राजू जी की पत्नी श्रीमती निधि सिंह ने किया नामांकन दाखिल,

Wed Sep 21 , 2022
Post Views : 1085 196 दीपक विश्वकर्मा ,,बिहार शरीफ नगर निगम से उप महापौर पद के लिए रजनीश कुमार सिंह उर्फ राजू जी की पत्नी श्रीमती निधि सिंह ने अपने नामांकन का पर्चा दाखिल किया । पर्चा दाखिल करने के बाद जैसे ही निधि सिंह प्रखंड कार्यालय से बाहर निकली […]

You May Like

Breaking News