न्यूज़ टुडे नालंदा –  परिवार नियोजन अभियान में मीडिया की अहम् भूमिका -कार्यशाला का आयोजन ,,,,,,

दीपक विश्वकर्मा ( 9334153201 ) आँकड़ों के मुताबिक देश की कुल जनसँख्या 1.21 अरब  है, देश में पुरुषों की संख्या अब 62.37 करोड़ और महिलाओं की संख्या 58.6 करोड़ है । ताजा आंकड़े आने के बाद ही वर्तमान जनसँख्या का पता चल सकेगा |  जनसंख्या नियंत्रण के लिए प्रयास कर रहे देश के लिए अच्छी खबर यह है कि आबादी की वृद्धि दर में कमी देखी गई है।बीते एक दशक में वृद्धि दर में 3.90 फीसदी की कमी दर्ज की गई है। पहली बार ऐसा हुआ है कि उत्तर प्रदेश, बिहार, राजस्थान, उत्तराखंड, झारखंड, मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और उड़ीसा में आबादी की वृद्धि दर में गिरावट आयी है।और यह सब संभव हुआ है भारत सरकार के सहयोग से और एनजीओ के प्रयास से |इन्ही मुद्दों को लेकर बिहार शरीफ के होटल ममता इंटरनेशनल के सभागार में ग्रामीण एवं नगर विकास परिषद द्वारा आयोजित मीडिया संवेदनशीलता पर कार्यशाला का आयोजन किया गया | इस मौके पर ग्रामीण एवं नगर विकास परिषद के महासचिव रामकिशोर प्रसाद सिंह ने कहा की परिवार नियोजन देश के लिए  मुख्य मुद्दा है | उन्होंने बताया कि बिहार के कुल 30 जिलों में यह कार्यक्रम चलाया जा रहा है जिसमे  उनके संस्था के माध्यम से कुल 15 जिले में कुल 90 स्वयंसेवी संस्थाओं के माध्यम से यह कार्य निरंतर किए जा रहे हैं | इस अभियान की शुरुआत 2017 के जून माह में की गई थी जिसकी शुरुआत बिहार के स्वास्थ्य मंत्री के द्वारा किया गया था |  इस अभियान से जन संख्या वृद्धि पर अंकुश लगी है | उन्होंने बताया कि इस अभियान की सफलता में पिछले 2 वर्षों के अंतराल में 35 अलग-अलग जिलों से चैंपियन उभर कर आये जिनमें फिल्म स्टार,गायक ,साहित्यकार ,पत्रकार और स्वास्थ्य कर्मी इस अभियान से जुड़े | जिसका परिणाम है कि आज यह अभियान धरातल पर उतर पाया है |
 इस कार्यक्रम की मॉनिटरिंग इनफॉरमेशन सिस्टम के माध्यम से की जा जाती है जिसका मूल्यांकन त्रैमासिक , अर्धवार्षिक और वार्षिक स्तर पर किया जाता  है | इसके अलावा इसका मूल्यांकन अन्य एजेंसियों के द्वारा भी कराए जाते हैं | समाज में आज भी  भ्रंतियां समाजिक पावंदी एवं जागरूकता का अभाव है। इसे दूर करने में मीडिया की अहम् भूमिका होती है। मीडिया ही एक ऐसा माध्यम  है, जिसके माध्यम से  समाज के बीच फैली भ्रांतियों को दूर किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि मीडिया एक सशक्त माद्यम है जिसका सहयोग महत्पूर्ण है | मुख्य वक्ता के रूप में मौजूद डॉक्टर श्री मति रत्न शीला सिन्हा ने कहा कि आज अशिक्षित महिलाओं में कई तरह की बीमारियां होती हैं जिस के रोकथाम के लिए उन्हें जागरूक करने की आवश्यकता है उन्होंने कहा कि ज्यादा बच्चे प्रजनन करने से इसका प्रतिकूल प्रभाव महिलाओं के स्वास्थ्य के ऊपर पड़ता है | इसके अलावा उनकी आर्थिक स्थिति भी कमजोर हो जाती हैं | उन्होंने मीडिया से वार्ता करते हुए बर्थ कंट्रोल के ऊपर अपने कई तरह के सुझाव दिए |
 कार्यशाला को ग्रामीण एवं नगर विकास परिषद के वरीय पदाधिकारी अंजू सिन्हा ने बिहार में परिवार नियोजन के मौजूदा स्थितियों के बारे में विस्तृत जानकारी दी । ग्लोबल हेल्थ स्ट्राटेजिस के वरीय पदाधिकारी संजय सुमन ने बताया की  बिहार के 30 जिले में सरकार के उद्देश्यों को पूरा करने के लिए यह अभियान चलाया जा रहा है उन्होंने परिवार नियोजन के कार्यक्रम के बारे में विस्तृत जानकारी दी | इस मौके पर  मुख्य अतिथि जिला पत्रकार संघ के अध्यक्ष चंद्रमणि पाण्डेय ने संस्था के द्वारा  की गई पहल की सराहना की तथा मीडिया को परिवार नियोजन के इस कार्यकर्म में अपना महत्वपूर्ण योगदान देने के लिए प्रेरित किया ।
 इस मौके पर विशिष्ट अतिथि के रूप में पत्रकार दीपक विश्वकर्मा ,पत्रकार संघ के सचिव रामा शंकर प्रसाद उर्फ़ चिक्कू जी और हिलसा अनुमंडल पत्रकार संघ के अध्यक्ष कमल किशोर प्रसाद मौजूद थे | जबकि कार्यशाला में दैनिक भास्कर के ब्यूरो प्रमुख सुजीत कुमार वर्मा ,अमर वर्मा ,सत्येंद्र वर्मा ,महफूज आलम ,प्रणय राज, अभिषेक कुमार ,बंटी राज आर्यन , कुमार सौरभ लाल ,संजीव कुमार,रौनक, बिट्टू कुमार सूरज कुमार,विनय शंकर,रजनीश कुमार के अलावे कई पत्रकार मौजूद थे  |

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Next Post

न्यूज टुडे नालंदा - फायरिंग से दहला नूरसराय का छतरपुर गांव,एक बालक को लगी गोली....

Wed Jun 19 , 2019
Post Views : 1085 37 Print 🖨 PDF 📄 eBook 📱राज की रिपोर्ट ( 9334160742 )  – आपसी विवाद को लेकर नूरसराय थाना इलाके के छतरपुर गांव में हुए अंधाधुंध फायरिंग में श्रवण यादव का 10 वर्षीय पुत्र टिंकू गोली लगने से जख्मी हो गया। जख्मी बालक को गंभीर हालत में बिहार शरीफ सदर अस्पताल […]

You May Like

Breaking News