दीपक विश्वकर्मा नालंदा, बिहार शरीफ सदर अस्पताल परिसर में बायोमेडिकल कचरा जलाए जाने से इलाके में प्रदूषण का खतरा बढ़ गया है । इलाके के लोगों का कहना है कि हमेशा इस स्थल पर मेडिकेटेड कचरे को जलाया जाता है जिसके कारण आसपास के लोगों का रहना मुश्किल हो गया है । पर्यावरण की दृष्टि कोन से मेडिकेटेड कचरा जलाया जाना दंडनीय अपराध है। बावजूद इसके यहां आए दिन कचरे जलाए जाते हैं। जिससे न केवल प्रदूषण का खतरा बढ़ रहा है बल्कि आसपास के लोगों का रहना मुश्किल हो गया है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed