राजगीर में वन अधिकारी की निर्मम हत्या निंदनीय, मामले में हो कठोर कार्रवाई : राजू दानवीर

दीपक विश्वकर्मा : नवादा में कर्ज के बोझ के चलते एक व्यापारी द्वारा अपने परिजनों के साथ आत्महत्या की घटना को जन अधिकार युवा परिषद के प्रदेश अध्यक्ष राजू दानवीर ने दुखद और शर्मनाक बताया है। उन्होंने इस मामले के संदर्भ में व्यापारियों के राहत के लिए बिहार सरकार से व्यापारी क्रेडिट कार्ड बनाने की मांग भी कर दी है। दानवीर ने कहा कि व्यापारी क्रेडिट कार्ड और उनकी सुरक्षा से ही व्यापारी वर्ग का भला होगा। उन्होंने कहा कि सरकार को अपराधियों पर नकेल कसने के लिए ला एण्ड ऑर्डर को और कडा करने की जरूरत है, ताकि अपराधियों के बीच भय का माहौल हो और प्रदेश में कानून का राज स्थापित करने में मदद मिले। राजू दानवीर ने उक्त बातें आज हिलसा विधान सभा अंतर्गत थरथरी प्रखंड के छरियारी ग्राम में पार्टी के पंचायत अध्यक्ष कुमार सुदर्शन सिन्हा और कराय परशुराय में पिंटू मुखिया के पूजनीय पिताजी स्व रामबाबू प्रसाद के घर श्रद्धांजलि कार्यक्रम में शामिल होते हुए कही। उन्होंने साफ कहा कि नवादा में जिस तरह से कर्ज के बोझ से दबे व्यापारी ने आत्महत्या की, अगर आज चुनाव का वक्त होता तो वहाँ नेताओं की लाइन लग जानी थी। लेकिन इस स्थिति में उस परिवार की सुध तक लेना किसी नेताओं ने गवारा नहीं समझा। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार की गलत नीतियों की वजह से व्यापारी वर्ग सड़क पर आ गए हैं। बैंक से भी उन्हें सहायता नहीं मिल रही है। लोन लेने की प्रक्रिया इतनी जटिल हो चली है कि व्यापारी वर्ग अब बाजार से ब्याज पर पैसे लेते हैं, जो अधिक प्रतिशत में पैसे मिलते हैं। इस वजह से वे कर्ज में डूब जाते हैं और अंततः आत्महत्या को मजबूर होते हैं। नवादा की घटना भी कुछ ऐसी ही है। इसलिए हम राज्य सरकार से आग्रह करेंगे कि वे व्यापारी क्रेडिट कार्ड बनाएं और जो लोग भी बाजार से ब्याज पर पैसे ले रहे हैं, उस पर भी सरकार ध्यान रखे और किसी के साथ नाइंसाफी ना हो इसका ख्याल रखे और गड़बड़ करने वालों पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाए।दानवीर ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय पर्यटक स्थल राजगीर में एक वन विभाग के अधिकारी की कुल्हाड़ी से काटकर कर निर्मम हत्या राजगीर की सुरक्षा में सेंध है। राजगीर बिहार का एक ख्यातिलब्ध पर्यटन केंद्र है। यहाँ इस तरह की घटना खौफ पैदा करती हैं। हम सरकार से मांग करते हैं कि राजगीर की सुरक्षा को और बडाई जाए। क्योंकि जब यहाँ अधिकारी ही सुरक्षित नहीं रहेंगे, तो आम जनता और पर्यटक की सुरक्षा कौन करेगा?

इस मौके पर पार्टी के सकड़ों स्थानीय नेता और कार्यकर्ता मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed